किसान सम्मान योजना में कृषि कर्मी करेंगे सहायता : प्रेम कुमार

पटना बिहार विविध

पटना : राज्य के कृषि मंत्री डाॅ.प्रेम कुमार ने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पहली कैबिनेट मीटिंग में ही किसानों के लिए बड़ी सौगात देते हुए प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत सभी रैयत किसानों को सलाना 6 हजार रूपये देने के अलावे किसानों के लिए पेंशन योजना का भी ऐलान किया है|प्रधानमंत्री किसान योजना पहले सिर्फ लघु एवं सीमान्त किसानों के लिए थी,जिसके तहत5 एकड़ भूमि वाले किसानों को ही इसका लाभ दिया जाता था,परन्तु अब इस योजना का लाभ सभी रैयत किसानों को दिया जा रहा है|

मंत्री ने कहा कि अबतक राज्य के 52 लाख 10 हजार 580 किसानों द्वारा इस योजना के अंतर्गत आवेदन किया गया है,सरकार द्वारा निर्धारित आवेदन की जांच प्रक्रिया के अनुसार अभीतक कृषि समन्वयकों द्वारा 46 लाख 28 हजार 589 किसानों का आवेदन स्वीकृत किया गया है, जबकि अपर समाहर्ता राजस्व द्वारा 41 लाख 12 हजार 796 आवेदनों को स्वीकृत करते हुए प्रेषित किया गया है|कृषि विभाग बिहार सरकार द्वारा पीएम किसान पोर्टल पर 40 लाख 83 हजार 930 किसानों का आवेदन अपलोड किया जा चुका है|भारत सरकार द्वारा आज तक 9 अरब 95 करोड़ 6 लाख 92 हजार रूपये की राशि किसानों के खाते में हस्तांतरित किया जा चुका है|अभीतक 25 लाख 63 हजार 54 किसानों के खाते में प्रथम किस्त की राशि,तथा 24 लाख 17 हजार 524 किसानों के खाते में दूसरी किस्त की राशि भेजी जा चुकी है|डाॅ.कुमार ने कहा कि राज्य के सभी किसानों को प्रधानमंत्री किसान सम्मान योजना दिलाने के लिए सरकार कटिबद्ध है,साथ ही,जिन किसानों का आवेदन किसी त्रुटिवश सत्यापन अधिकारी द्वारा रद्द कर दिया गया हो,वैसे किसानों को पुनर्विचार करने के लिए आवेदन देना  अनिवार्य है|इसके लिए कृषि विभाग बिहार के डीबीटी वेबसाईट पर अनुदान के लिए आवेदन के अंतर्गत पुनर्विचार करने हेतु आवेदन पीएम-किसान लिंक पर करना है|

उन्होंने कहा कि यदि कृषि समन्वयक स्तर से रद्द हुआ हो तो पुनर्विचार करने के लिए आवेदन जिला कृषि पदाधिकारी के लाॅगइन में सत्यापन के लिए भेजा जाएगा|जिला कृषि पदाधिकारी के सत्यापन के बाद आवेदन एडीएम स्तर पर भेजा जाएगा,एडीएम स्तर पर सत्यापन के बाद आवेदन राज्य स्तर पर भेजा जाएगा|यदि आवेदन अंचलाधिकारी के स्तर से रद्द हुआ हो तो आवेदन पर पुनर्विचार के लिए एडीएम स्तर पर भेजा जाएगा,एडीएम स्तर पर सत्यापन के बाद आवेदन राज्य स्तर पर भेजा जाएगा|यदि आवेदन एडीएम स्तर से रद्द हुआ हो तो पुनर्विचार के लिए आवेदन एडीएम स्तर पर ही भेजा जाएगा,एडीएम स्तर पर सत्यापन के बाद आवेदन राज्य स्तर पर भेजा जाएगा|मंत्री ने निदेश दिया कि कृषि विभाग के सभी क्षेत्रीय कर्मी एवं पदाधिकारी किसानों को किसान सम्मान योजना का लाभ लेने हेतु आवेदन में सहायता करेंगे,राज्य के योग्य किसान इस योजना के लाभ से वंचित न रह जाये इसके लिए सरकार प्रतिबद्ध है| 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *