अनंत सिंह ने दिल्ली के कोर्ट में किया सरेंडर, पुलिस लेगी रिमांड पर

अपराध पटना बिहार

पटना। आखिरकार मोकामा के विधायक अनंत सिंह व बिहार पुलिस के बीच लुकाछिपी का खेल खत्म हो गया। शुक्रवार को अनंत सिंह ने पुलिस से बचते हुए दिल्ली के साकेत कोर्ट में आत्मसमर्पपण कर दिया। जल्द ही पटना पुलिस उन्हें रिमांड पर लेकर पूछताछ करेगी। वारंट निर्गत होने के दिन से ही अनंत सिंह फरार चल रहे थे। वह तीन वीडियो भी वायरल किया था जिसमें पुलिस पर फंसाने का आरोप लगाया था। कहा था कि वह कोर्ट में ही सरेंडर करेंगे।
गौरतलब है कि विधायक के पैतृक आवास बाढ़ के लदमा से एके-47 और हैंड ग्रेनेड मिलने के बाद से हीं उनके सरकारी आवास से लेकर रिश्तेदारों तक के यहां छापेमारी कर अनंत सिंह को हर कीमत गिरफ्तार करना चाहती थी।लेकिन सात दिन तक लगातार फरार रहने के बाद भी बिहार पुलिस उन्हें नहीं ठूंढ पाई।अनंत सिंह को पकड़ने के लिए पुलिस मुख्यालय ने 11 स्पेशल टीम को पीछे लगाया था।टीम में 200 तेज-तर्रार पुलिस अधिकारी और सिपाही को शामिल गया था।लेकिन पुलिस फौज पर भारी पड़ते हुए अतंत सिंह ने दिल्ली के कोर्ट में सरेंडर कर दिया। पटना पुलिस उन्हें गिरफ्तार करने के लिए हाथ मलती रह गयी। पुलिस का सारा सिस्टम फेल हो गया।
पहले भी गए हैं जेल

अनंत सिंह का 80 के दशक से अपराध में नाम जुड़ा तो आज तक जुड़ता गया । इस बार अनंत सिंह के घर से एके 47 और दो हैंड ग्रेनेड मिलने के बाद पुलिस ने यूएपीए के तहत मामला दर्ज किया हैं । हालाँकि अनंत सिंह पर विधायक बनने से पहले और विधायक बनने के बाद हत्या ,अपहरण जैसे दर्जनों मामले दर्ज हैं । सन 2002 में अनंत सिंह ने पहली बार बाढ़ कोर्ट में सरेंडर किया था। उस समय भी अनंत सिंह पर हत्या ,अपहरण जैसे दर्जनों मामले दर्ज थे।
यूएपीए में जमानत का नहीं है प्रावधान
अनंत सिंह विधायक बनने के पहले जेल जा चुके हैं । विधायक बनने के बाद रेश्मा हत्याकांड में नाम जुड़ा लेकिन पुलिस जांच में क्लीन चिट मिल गयी ।लेकिन उसी समय एक निजी चैनल के पत्रकार के पिटाई मामले में 14 दिनों के लिए जेल जाना पड़ा । इसके बाद बाढ़ में पुटूस हत्याकांड में नाम जुड़ा । पटना पुलिस ने गिरफ्तार किया तो करीब एक साल तक जेल रहना पड़ा था। इस बार विधायक अनंत सिंह के घर से पुलिस ने एके 47 व दो हैंड ग्रेनेड बरामद किया हैं । यूएपीए के तहत मामला दर्ज किया गया हैं । इस धारा में जमानत का कोई प्रावधान नहीं हैं । 180 दिन तक चार्जशीट किया जाता हैं ,चार्जशीट नहीं आया तो जमानत का चांस होता हैं लेकिन पटना पुलिस की कार्रवाई से स्पष्ट होता हैं की जल्द ही विधायक अनंत सिंह के खिलाफ चार्जशीट दाखिल हो जाएगा । इस कांड में सभी गवाह पुलिस हैं ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *