मुख्यमंत्री ने दिए अधिकारियों को कई निर्देश : कोविड 19

बिहार

पटना : मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में भी कोरोना जांच की संख्या और बढ़ायें तथा कोरोना संक्रमण के फैलाव को रोकने के लिए सभी जरुरी कदम उठायें। होम आइसोलेशन वाले मरीजों की भी पूरी खबर रखें। होम विजिट करते रहें ताकि मरीजों का उनके घर पर बेहतर ट्रीटमेंट हो सके। कोविड अस्पतालों में मरीजों एवं उनके परिजनों की हर सुविधा का ख्याल रखें। कम्युनिटी कीचेन के माध्यम से परिजनों को ससमय भोजन उपलब्ध कराते रहें।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने 1 अणे मार्ग स्थित संकल्प से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से 10 जिलों के डेडिकेटेड कोविड हेल्थ सेंटर तथा 09 मेडिकल कॉलेज अस्पतालों में स्थापित डेडिकेटेड कोविड हॉस्पीटल का वर्चुवल टूर के माध्यम से व्यवस्थाओं का जायजा लिया और उसकी समीक्षा की।

मुख्यमंत्री को समस्तीपुर, पूर्णिया, सहरसा, सीवान, पूर्वी चंपारण, नालन्दा, खगड़िया, औरंगाबाद, पटना और कटिहार जिले के जिलाधिकारियों ने डेडिकेटेड कोविड हेल्थ सेंटर की व्यवस्थाओं के संबंध में विस्तृत जानकारी दी। उन्होंने मरीजों के इलाज की व्यवस्था, दवाईयों की उपलब्धता, सामुदायिक किचन के माध्यम से मरीजों के परिजनों के भोजन की व्यवस्था, ऑक्सीजन की उपलब्धता, डॉक्टरों, नर्सों एवं चिकित्साकर्मियों की उपलब्धता एवं उनका वर्क प्रॉसेस, जिले में होम आइसोलेशन में रह रहे मरीजों के लिए मेडिकल किट की उपलब्धता, होम विजिट आदि के संबंध में विस्तृत जानकारी दी।

पीएमसीएच, पटना, एनएमसीएच, पटना, डीएमसीएच, दरभंगा, जेएलएनएमसीएच, भागलपुर, केटीएमसीएच, मधेपुरा, एएनएमसीएच, गया, वीआईएमएस, पावापुरी, एसकेएमसीएच, मुजफ्फरपुर, जीएमसीएच, बेतिया में स्थापित डेडिकेटेड कोविड हॉस्पीटल के संबंध में जिलाधिकारियों एवं मेडिकल सुप्रीटेंडेंट/प्रिसिंपल ने अस्पताल में मरीजों के लिये किये जा रहे व्यवस्थाओं, मेडिकल ट्रीटमेंट, संसाधनों की उपलब्धता आदि के संबंध में विस्तृत जानकारी दी। स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य सचिव प्रत्यय अमृत ने कोराना संक्रमण की अद्यतन स्थिति एवं बचाव के लिये किये जा रहे कार्यों के संबंध में जानकारी दी।

वर्चुअल टूर के दौरान कुछ मरीजों के परिजनों से मुख्यमंत्री ने बात की और वहां की व्यवस्था के बारे में जानकारी ली। परिजनों ने मरीजों के इलाज एवं सेंटर पर की जा रही व्यवस्था को लेकर संतुष्टि जतायी। मुख्यमंत्री ने कुछ स्वस्थ हो रहे मरीजों से भी बातचीत के दौरान उनसे जाना कि वे कब भर्ती हुये, कैसे इलाज हुआ और अब क्या स्थिति है। मरीजों ने डाक्टरों, नर्सों के प्रति आभार जताते हुये बताया कि अब वे स्वस्थ हो रहे हैं, यहां की व्यवस्था अच्छी है, सभी सुविधायें मिल रही है, इसके लिये सरकार के प्रति आभार व्यक्त करता हूं। मुख्यमंत्री ने मरीजों से कहा कि मेरी कामना है कि आप जल्द से जल्द स्वस्थ होकर घर जायें।

वर्चुअल निरीक्षण के दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि आप सभी लोगों के द्वारा सेंटरों पर की जा रही व्यवस्थाओं की जानकारी दी गई, आपलोगों ने मरीजों के परिजनों से बात करायी, मरीजों की स्थिति भी बतायी। हमारी कामना है कि सभी मरीज जल्द से जल्द स्वस्थ हों। कोरोना संक्रमितों की संख्या अब कम होने लगी है। मरीजों की हर सुविधा का ख्याल जा रहा है। उनके इलाज के लिये सभी जरूरी इंतजाम किये गये हैं। लॉकडाउन से कोरोना संक्रमण के फैलाव को रोकने में मदद मिली है। कोरोना संक्रमण के खिलाफ सभी लोगों को सचेत रहना है, पूरी एकजुटता के साथ अपनी जिम्मेदारी का निर्वहन करना है, इसमें किसी प्रकार की ढिलाई नहीं बरती जाए। सभी मनोयोग से काम करेंगे तो लोगों का और भरोसा बढ़ेगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि सबको सकारात्मकता एवं एकजुटता के साथ काम करना है। चिकित्सक, नर्स एवं अन्य चिकित्साकर्मी सेंटर पर हमेशा उपलब्ध रहें। मरीजों के पास उनका लगातार विजिट हो ताकि प्रॉपर ट्रीटमेंट होने के साथ-साथ उनका मनोबल भी बना रहे। मरीजों की हर सुविधा का ख्याल रखें, सरकार की तरफ से संसाधनों की कोई कमी नहीं होने दी जाएगी। डेडिकेटेड कोविड हॉस्पीटल में आई0सी0यू0 बेड की संख्या और बढ़ायें।

वर्चुअल टूर में मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव दीपक कुमार, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव चंचल कुमार उपस्थित थे, जबकि वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से उप मुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद, उप मुख्यमंत्री रेणु देवी, स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय सहित अन्य मंत्रीगण, मुख्य सचिव त्रिपुरारी शरण, पुलिस महानिदेशक एसके सिंघल, सूचना एवं जन-सम्पर्क विभाग के सचिव अनुपम कुमार सहित संबद्ध विभागों के वरीय पदाधिकारीगण, जिलाधिकारीगण, वरीय पुलिस अधीक्षक/पुलिस अधीक्षक, चिकित्सक एवं अन्य चिकित्साकर्मी भी जुड़े हुए थे।

Tagged

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *