बिहार को बीमार बनाने वाली ताकतों को उखाड़ फेंके: प्रधानमंत्री

बिहार

पटना । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भेटनरी कॉलेज मैदान पर जनता से एनडीए को जिताने की अपील करते हुए कहा कि जंगलराज वालों को मौका मिला तो फिर बिहार में सुविधाएं बढ़ाना केंद्र के लिए मुश्किल हो जाएगा । बिहार को बीमार करने वाली ताकतों को उखाड़ फेंके और एनडीए को वोट करें तभी बिहार में विकास होगा । जनता का एक-एक वोट बिहार को बीमार बनाने से बचा सकता है । उन्होंने कहा कि बिहार में लोगों की अपेक्षाएं बढ़ी है । पहले गांव के लोग खरंजा का सपना देखते थे अब वही गांव के लोग सीमेंटेड रोड मांग रहे हैं । पटना में रिंग रोड बना है और अब मेट्रो का लाभ मिलने वाला है । एनडीए सरकार की उपलब्धि है कि बिहार के लोगों की अपेक्षाएं बढ़ी है ।
पीएम मोदी ने कहा कि बिहार के लोगों का बैंक अकाउंट मोबाइल से जोड़ा गया है जिससे पैसा सीधे उनके खाते में पहुंचाना संभव हो सका है । बिहार में लालटेन का अंधेरा छट गया है और नीतीश की सरकार ने यहां उजाला लाने की कोशिश की है । देश को नई शिक्षा नीति मिली है । शिक्षा नीति के बदलाव से गांव गांव के लोगों को लाभ मिलेगा । उन्होंने कहा कि कोरोना काल में जब लोगों को बैंकों में जाकर ट्रांजैक्शन करना मुश्किल था तो बिहार के 23 लाख लोगों को घर बैठे बैंकों का लेन-देन कराने की सुविधा डाक विभाग ने दी । पहले पासपोर्ट बनाने के लिए पूरे बिहार के लोगों को पटना आना पड़ता था आज जिलों में भी पासपोर्ट सेंटर खोले गए हैं । उन्होंने कहा कि 1000 दिनों में गांव गांव में ऑप्टिकल फाइबर बिछा दिए जाएंगे और हर गांव को वाई-फाई की सुविधा दे दी जाएगी । डिजिटल इंडिया के विस्तार से अस्पतालों की परेशानी खत्म हो जाएगी । नेशनल डिजिटल हेल्थ मिशन से गांव के बुजुर्गों को डॉक्टरों की सुविधा घर बैठे मिल सकेगी ।
उन्होंने कहा कि गंगा घाटों का जीर्णोद्धार किया गया है और किया जा रहा है । आत्मनिर्भर बिहार बनाने के लिए नया रोड मैप बनाया गया है । पटना में आईटी हब बनने की पूरी संभावना है। आईटी की बड़ी कंपनियों ने पटना के साथ-साथ मुजफ्फरपुर, गया में भी अपने कार्यालय खोल लिए हैं । क्या जंगलराज में बिहार में आईटी हब का सपना देखा जा सकता था ? यह सवाल हर कोई अपने मन से पूछ सकता है । उन्होंने राजद और तेजस्वी का नाम लिए बिना कहा कि जंगल राज के राजकुमार क्या बिहार को आईटी के क्षेत्र में आगे ले जा सकते हैं ? यह जवाब मुझसे ज्यादा बिहार की जनता जानती है । देश में टेक्नोलॉजी बढ़ाने में बिहार के युवाओं की बड़ी भूमिका है और अब यहां के प्रतिभाशाली युवा पलायन नहीं करेंगे । उन्होंने कहा कि एनडीए सरकार का जोर है सरकारी सुविधाएं हर व्यक्ति को मिले । 28000 पक्के घर स्वीकृत किए गए हैं । 34000 कॉमन सेंटर खोले गए हैं जहां ऑनलाइन सारी सुविधाएं दी जा रही है । उन्होंने कहा कि स्वामित्व योजना केंद्र सरकार लाने वाली है जिससे गांव में जमीन प्रॉपर्टी की मैपिंग हो रही है और प्रॉपर्टी कार्ड बनाया जा रहा है जिससे लोगों को लाभ होगा । बैंकों में से कर्ज लेना आसान हो जायेगा ।

प्रधानमंत्री मोदी ने बिहार में काफी सहायता दी
सभा में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि कोरोना काल में पूरे दुनिया के लोग तबाह हुए हैं और ऐसे में प्रधानमंत्री मोदी ने बिहार में काफी सहायता दी है । मुफ्त में अनाज दिया गया है । महिलाओं को सहायता दी गई । गरीब परिवारों के 85 हजार महिलाओं को एलपीजी के मुफ्त कनेक्शन दिए गए । पुल-पुलिया के निर्माण में केद्र ने 50000 करोड़ रुपए से अधिक की मदद बिहार सरकार को दी है । उन्होंने कहा कि बिहार के विकास के लिए ढेर सारे कार्य केंद्र सरकार की मदद से किए गए हैं । अभी हाल में बेउर और कर्मलीचक में सीवरेज प्लांट का उद्घाटन भी प्रधानमंत्री मोदी ने कोरोना काल में किया जो बिहार के प्रति उनका ध्यान है , यह साबित करता है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *