महागठबंधन ने जारी की घोषणा पत्र

बिहार

पटना। दस लाख बेरोजगारों को नौकरी देने के संकल्प के साथ शनिवार को महागठबंधन के मुख्यमंत्री के उम्मीदवार तेजस्वी यादव ने घोषणा पत्र जारी की |घोषणा पत्र जारी करते हुए कांग्रेस के रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि अगर उनकी सरकार बनती है तो विधान सभा की पहली बैठक में ही काले कृषि कानून को रद्द कर दिया जाएगा ।

मौर्या होटल में आयोजित कार्यक्रम में महागठबंधन तथा राजद के नेता तेजस्वी यादव कांग्रेस के वरिष्ठ नेता रणदीप सिंह सुरजेवाला,प्रदेश अध्यक्ष डॉ मदन मोहन झा सांसद अखिलेश सिंह समेत वाम दलों के प्रमुख नेताओं के साथ साझा घोषणापत्र को जारी किया। महागठबंधन के संयुक्त घोषणापत्र में प्रदेश में सत्ता के बदलाव को मुख्य बिंदु बनाया गया है। राजद के साथ-साथ कांग्रेस और वाम दलों में सरकार गठन के बाद बिहार के लिए जो प्राथमिकताएं तय की है उसका उल्लेख इस घोषणापत्र में किया गया है। महागठबंधन के घोषणापत्र को जारी करते हुए तेजस्वी यादव ने कहा कि उनकी सरकार बनेगी तो जितने भी किसानों का कृषि ऋण है उसको माफ करेंगे।

कहा कि कहा कि पहली कैबिनेट में 10 लाख युवाओं को रोजगार देंगे। छात्र नियुक्ति को लेकर जो फॉर्म भरते हैं उसको माफ करेंगे।परीक्षा केंद्र जाने के लिए किराया देंगे।तेजस्वी यादव ने कहा कि कोरोना संकट के बीच भी बिहार के लोग पलायन करने जा रहे हैं।कर्पूरी वीर सहायता केंद्र पूरे देश में खोला जाएगा।आपदा के दौरान मजदूरों को सेवा और राहत मिलेगी। नियोजित शिक्षकों को समान काम के बदले समान वेतन देंगे।तेजस्वी यादव ने कहा जिविका दीदीयों का नौकरी और वेतनमान देंगे।कांग्रेस नेता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा कि ये चुनाव नई दशा बनाम दुर्दशा का चुनाव है। ये चुनाव नया रास्ता और नया आसमान बनाम हिन्दू-मुसलमान का चुनाव है।ये चुनाव नए तेज़ बनाम फ़ेल तजुर्बे की दुहाई का चुनाव है।ये चुनाव स्वाभिमान और प्रगति बनाम बंटवारा और नफरत का चुनाव है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *