एनडीए के खिलाफ चुनाव में उतरे 15 नेताओं को जदयू ने निकाला

पटना बिहार राजनीति

पटना :  एनडीए गठबंधन के प्रत्याशियों के खिलाफ दल के फैसले से इतर जाकर मैदान में ताल ठोक रहे 15 बागी नेताओं को जदयू ने दल से निष्कासित कर दिया है। इनमें जदयू विधायक ददन पहलवान, पूर्व मंत्री भगवान सिंह कुशवाहा और रामेश्वर पासवान समेत कई पूर्व विधायक शामिल हैं।

गौरतलब है कि पहले चरण में एनडीए प्रत्याशियों के खिलाफ चुनाव लड़ने वाले अपने 9 नेताओं को भाजपा ने सोमवार को दल से निकाला था। मंगलवार को प्रदेश जदयू अध्यक्ष बशिष्ठ नारायण सिंह ने अपने दल के 15 बागी नेताओं को छह वर्ष के लिए निष्कासित कर दिया। इन सभी की प्राथमिक सदस्यता भी निलंबित कर दी गयी है। पार्टी विरोधी कार्य करने वाले इन नेताओं पर कार्रवाई की जानकारी प्रदेश महासचिव नवीन कुमार आर्य ने दी।

रामेश्वर पासवान, रणविजय सिंह, सुमित सिंह, कंचन गुप्ता तथा प्रमोद चंद्रवंशी भी निष्कासित

जदयू से निष्कासित किए गए बागी नेताओं में डुमरांव के विधायक ददन सिंह यादव और उनके पुत्र करतार सिंह यादव (कार्यकर्ता, डुमरांव), पूर्व मंत्री रामेश्वर पासवान, पूर्व मंत्री भगवान सिंह कुशवाहा, पूर्व विधायक रणविजय सिंह, चकाई के पूर्व विधायक सुमित कुमार सिंह, जदयू महिला प्रकोष्ठ की पूर्व प्रदेश अध्यक्ष कंचन कुमारी गुप्ता तथा अतिपिछड़ा वर्ग आयोग के पूर्व सदस्य प्रमोद सिंह चंद्रवंशी शामिल हैं। सुमित सिंह पूर्व मंत्री नरेन्द्र सिंह के पुत्र हैं।

पार्टी के कुछ पूर्व पदाधिकारी भी निकाले गए

इनके साथ ही युवा जदयू के पूर्व कोषाध्यक्ष अरुण कुमार, औरंगाबाद जिला जदयू के पूर्व संयोजक तजम्मुल खां, रोहतास के पूर्व जिलाध्यक्ष अमरेश चौधरी, जमुई के पूर्व जिलाध्यक्ष शिवशंकर चौधरी, पिछले चुनाव में सिकंदरा (सुरक्षित) से जदयू प्रत्याशी रहे सिंधु पासवान, जदयू के बरबीघा विधानसभा प्रभारी डॉ. राकेश रंजन और कार्यकर्ता मुंगेरी पासवान को भी जदयू ने पार्टी से निकाल दिया है।

ज्यादातर निर्दलीय उतरे हैं मैदान में

पार्टी से निकाले गए 15 में दो को छोड़कर सभी नेता दल विरोधी कार्य करते हुए मैदान में उतर गए हैं। भगवान सिंह कुशवाहा जदयू से टिकट नहीं मिलने पर लोजपा से जदयू उम्मीदवार के खिलाफ ताल ठोक रहे हैं। वहीं पूर्व विधायक डा. रणविजय सिंह रालोसपा के टिकट पर गोह से भाजपा प्रत्याशी की राह मुश्किल बना रहे हैं। जदयू विधायक ददन यादव बतौर निर्दलीय डुमरांव से पार्टी प्रत्याशी अंजुम आरा के खिलाफ मैदान में उतरे हैं। कंचन गुप्ता और पूर्व विधायक सुमित सिंह क्रमश: मुंगेर और चकाई में बतौर निर्दलीय मैदान में उतरकर एनडीए प्रत्याशियों के लिए चुनौती पेश कर रहे हैं। प्रमोद सिंह चन्द्रवंशी ओबरा से बतौर निर्दलीय चुनाव लड़ रहे हैं। ओबरा में जदयू ने सुनील कुमार को पहली बार मैदान में उतारा है। जदयू के बागी अरुण कुमार बेलागंज, तजम्मुल खां रफीगंज, डा. राकेश रंजन बरबीघा, मुंगेरी पासवान चेनारी से निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर खड़े हैं।  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *